गेट पर बैठे यात्री से सिग्नल के पास खड़े युवक ने झपट्टा मारकर मोबाइल फोन छीना

चलती ट्रेन के गेट पर बैठे यात्री से सिग्नल के पास खड़े युवक ने झपट्टा मारकर मोबाइल फोन छीना, हुआ फरार

भागलपुर जिला के नारायणपुर प्रखंड अंतर्गत भवानीपुर थाना क्षेत्र के नारायणपुर रेलवे स्टेशन के पूर्वी सिग्नल के पास शनिवार के शाम बदमाशों ने ट्रेन के गेट पर खड़े दो यात्री का झपट्टा मारकर मोबाइल फोन छीन लिया. वही एक यात्री ने चलती ट्रेन से कूदकर बदमाशों का पीछा करने लगा. बदमाशों ने पीछा करता देख एक मोबाइल फोन झाड़ी में फेंक दिया और दूसरा फोन लेकर फरार हो गए। उक्त जानकारी देते हुए पीड़ित यात्री ने बताया कि वह मूल रूप से वेस्ट बेंगल का रहने वाला है. वह गुवाहाटी एक्सप्रेस ट्रेन में सवार होकर कटिहार जा रहा था. नारायणपुर स्टेशन के पूर्वी सिग्नल के पास ट्रेन की रफ्तार थोड़ी कम थी. इसी बीच एक युवक जो पटरी से सटे हुआ खड़ा था.अचानक से झपट्टा मारकर उसके हाथ से मोबाइल फोन छीन लिया।वह शोर मचाने लगाचलती ट्रेन के गेट पर बैठे यात्री से सिग्नल के पास खड़े युवक ने झपट्टा मारकर मोबाइल फोन छीना, हुआ फरार

नवगछिया जिला के नारायणपुर प्रखंड अंतर्गत भवानीपुर थाना क्षेत्र के नारायणपुर रेलवे स्टेशन के पूर्वी सिग्नल के पास शनिवार के शाम बदमाशों ने ट्रेन के गेट पर खड़े दो यात्री का झपट्टा मारकर मोबाइल फोन छीन लिया। वही एक यात्री ने चलती ट्रेन से कूदकर बदमाशों का पीछा करने लगा। बदमाशों ने पीछा करता देख एक मोबाइल फोन झाड़ी में फेंक दिया और दूसरा फोन लेकर फरार हो गए। उक्त जानकारी देते हुए पीड़ित यात्री ने बताया कि वह मूल रूप से वेस्ट बेंगल का रहने वाला है। वह गुवाहाटी एक्सप्रेस ट्रेन में सवार होकर कटिहार जा रहा था। नारायणपुर स्टेशन के पूर्वी सिग्नल के पास ट्रेन की रफ्तार थोड़ी कम थी। इसी बीच एक युवक जो पटरी से सटे हुआ खड़ा था।अचानक से झपट्टा मारकर उसके हाथ से मोबाइल फोन छीन लिया।वह शोर मचाने लगा। ट्रेन धीरे- धीरे रफ्तार पकड़ रही थी। दूसरे यात्रियों ने कहा कि बिहपुर रेलवे स्टेशन पर उतर कर शिकायत कर देना। लेकिन, वह चलती ट्रेन से नीचे कूद गया. इस दौरान उसको हल्की चोट भी आयी। और सारा सामान भी ट्रेन में छूट गया। धीरे- धीरे रफ्तार पकड़ रही थी. दूसरे यात्रियों ने कहा कि बिहपुर रेलवे स्टेशन पर उतर कर शिकायत कर देना। लेकिन, वह चलती ट्रेन से नीचे कूद गया. इस दौरान उसको हल्की चोट भी आयी। और सारा सामान भी ट्रेन में छूट गया।

Leave a Comment