बाढ़ राहत अनुश्रवण सह निगरानी समिति की बैठक

सोमवार को बिहपुर के ट्रायसम भवन में प्रखंडस्तरीय बाढ़ राहत अनुश्रवण सह निगरानी समिति की बैठक हुई। जिसकी अध्यक्षता प्रखंड प्रमुख रीमा देवी व संचालन सीओ लवकुश कुमार ने किया।बैठक में बाढ़ पूर्व तैयारियों पर चर्चा में सीओ ने कहा कि बिना निबंधन के कोई नाव नहीं चलेगी।अगर बिना निंबधन के कोई नाव का नदी में परिचालन होता है तो उस पर कार्रवाई होगी। प्रमुख रीमा देवी द्वारा पूछे जाने पर सीओ ने बताया कि बाढ़ के दौरान प्रखंड में नौ आश्रय स्थल चिन्हित किया गया है।

वहीं बैठक में उपस्थित द्वारा उक्त आश्रय स्थल पर पेयजल की स्थिति को दुरूस्त कराने को लेकर चापाकल को दुरूस्त करा लेने कहा।इस सीओ ने पीएचईडी विभाग के जेई मंटु कुमार इस बारे में निदेशित किया।जेई ने कहा कि सभी चापाकल दुरूस्त है।फिर भी सभी जगहों पर भैतिक सत्यापन भी कर लिया जाएगा।प्रखंड पशु पालन पदाधिकारी ने कहा कि पशुओं की सभी दवा उपलब्ध है।वहीं आंगनबाड़ी केंद्रों पर बाढ़ के दौरान अस्थाई मेडिकल कैंप आदि लगाने समेत बाढ़ पूर्व तैयारियों पर पर विस्तार से चर्चा की गई।बैठक में पंसस ललन मंडल व कांग्रेस नेता ईरफान आलम नसमेत राजस्व पदाधिकारी राजेशरंजन पोद्दार,अंचल नाजिर जकीउर्ररहमान,डाटा इंट्री आपरेटर अजीत कुमार समेत कई पंचायत प्रतिनिधि व राजस्व कर्मचारी मौजूदगी थी।

Leave a Comment