बेटे को गोली मारते वक्त इस पिता के हाथ नहीं कांपे

आपसी रंजिश में दो पक्षों में मारपीट में पिता के हाथ से चली ग़ोली पुत्र को लगी

बिहपुर सीएचसी से मायागंज भागलपुर रेफर

चचेरे भाई से शराब की बोतल गायब करने को लेकर हुआ था विवाद, पुलिस जांच में जुटी

नवगछिया – बिहपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत भ्रमरपुर पछियारी टोला में मंगलवार की सुबह करीब साढ़े आठ बजे दो सगे भाइयों और पुत्रो के बीच आपसी रंजिश में जमकर मारपीट हुई। वही मारपीट के दौरान एक पक्ष के द्वारा गोलीबारी भी की गई। जिसमें सूरज कुमार उम्र 20 वर्ष पिता रमन झा को एक ग़ोली लग गई।आननफानन में परीजन गंभीर हालत में उसे बिहपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर गए।जहां डॉक्टर ने प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए मायागंज स्थित जेएलएनएमसीएच भागलपुर रेफर कर दिया। जहां उसका इलाज चल रहा है। ग़ोली उसके दाहिने तरफ गाल (जबरा) को चीरते हुए बीचोबीच आरपार होकर निकल गई है।सुबह सुबह अचानक गोली चलने की आवाज से भ्रमरपुर में दहशत का माहौल उत्पन्न हो गया।सूचना मिलते ही बिहपुर पुलिस दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और मामले की जांच पड़ताल की। वही आसपास के ग्रामीणों से घटना को लेकर पूछताछ की गई और दोनो पक्षों के लोगो से भी पुलिस ने मामले की जानकारी ली।ग्रामीण सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ग़ोली से जख्मी सूरज कुमार पिता रमन झा, बच्चन झा व इनके पुत्र वर्षों से विदेशी शराब बेचने का कारोबार करता आ रहा है। बताया गया कि हाल के कुछ दिनों से सूरज का चचेरा भाई अंकु कुमार पिता बच्चन झा उसकी शराब की कई बोतलें चुरा कर गायब कर देता था। घटना की रात भी उसकी शराब की कुछ बोतलें चोरी हो गया था। जिसे लेकर सूरज कुमार और बच्चन झा के पुत्र अंकु के बीच घर पर ही विवाद हो रहा था।विवाद के वक्त रमन झा और बच्चन झा पिता स्व छोटे झा दोनो भाई अपने-अपने पुत्र के साथ लड़ाई ठानने के लिए सहयोग में था। दोनो पक्षों के बीच पहले तो खूब लाठी डंडा लप्पर थप्पड़ चला। जिसमे दोनो पक्षों के लोगो को चोटें आई।तभी रमन झा ने घर से पिस्टल निकाली और अपने सगे भतीजा अंकु कुमार पर ग़ोली चला दिया। इसी बीच रमन झा का पुत्र सूरज ग़ोली के सामने आ गया जिससे ग़ोली सूरज को लग गई। ग़ोली लगते ही सूरज लहूलुहान वही गिर गया।घर में रोने चिल्लाने की आवाज गूंजने लगी। आननफानन में घरवाले जख्मी हालत में सूरज को बिहपुर सीएचसी लेकर गए। जहां डॉक्टर ने बेहतर इलाज के लिए मायागंज भागलपुर रेफर कर दिया।

*रमन झा और सूरज कुमार दोनो पिता-पुत्र पूर्व में शराब मामले में व बच्चन झा आर्म्स एक्ट व अन्य मामले में काट चुका है जेल

गौरतलब हो कि रमन झा, बच्चन झा सूरज कुमार पिता रमन झा तीनो का पुराना आपराधिक इतिहास रहा है। रमन झा, बच्चन झा और सूरज कुमार कई वर्षों से विदेशी शराब का कारोबार करते आ रहा है।दोनो पिता पुत्र पूर्व में शराब कारोबार के मामले में कई बार जेल काट चुका है। बीते माह ही सूरज शराब मामले में जेल से छूटकर बाहर आया है।जबकि रमन झा कई बार जेल गया है। रमन झा अब भी शराब के कांड में फरार चल रहा है पुलिस को लंबे समय से उसकी तलाश है। वही बच्चन झा भी शराब कारोबार से जुड़ा हुआ है। बच्चन का पुराना आपराधिक इतिहास रहा है।बच्चन झा आर्म्स एक्ट व अन्य मामले में जेल काट चुका है। इस बारे में बिहपुर थानाध्यक्ष राहुल कुमार ठाकुर ने बताया कि घटना की सूचना मिली है। पुलिस के पहुंचने के पूर्व ग़ोली से जख्मी सूरज को घरवाले मायागंज भागलपुर लेकर चले गए।इस कारण फर्द बयान दर्ज नही हो सका है। अबतक किसी ओर से आवेदन प्राप्त नही हुआ है।पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। आवेदन मिलने पर जांचोपरांत अग्रतर कार्यवाई की जाएगी।

Leave a Comment