Attack on CBI : बिहार में CBI की टीम पर हमला ! ग्रामीणों ने को दौड़ा – दौड़ाकर पीटा, पेपर लीक केस की जांच करने पहुंची थी टीम…

Attack on CBI : बिहार में CBI की टीम और स्थानीय पुलिस टीम पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया। लोगों ने जांच टीम को फर्जी बताते हुए हमला कर दिया। सीबीआई टीम के ड्राइवर की बुरी तरह पिटाई कर दी गई। यह घटना नवादा जिले के रजौली थाना क्षेत्र के मुरहेना-कसियाडीह में हुई। इस संबंध में रजौली थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है, जिसमें 08 लोगों को नामजद किया गया है। 150-200 लोगों को अप्राथमिकी अभियुक्त बनाया गया है। इस मामले में पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

WHATSAPP 3 1

जानिए क्या है पूरा मामला ?

दरअसल सीबीआई ( Attack on CBI )  की टीम नवादा पुलिस बल के साथ मुरहेना के कसियाडीह गांव निवासी फूलचंद प्रसाद और उनकी पत्नी बबीता देवी के घर की तलाशी लेकर लौट रही थी। इस दौरान परिजनों और करीब 200-300 लोगों की भीड़ जुट गई। सिविल ड्रेस में मौजूद सीबीआई टीम ( Attack on CBI ) को फर्जी बताते हुए घेर लिया गया। सीबीआई अधिकारियों ने अपना पहचान पत्र भी दिखाया। नवादा नगर थाने की महिला सिपाही काजल कुमारी द्वारा समझाने का प्रयास भी किया गया। लेकिन भीड़ में शामिल लोगों ने उनकी एक न सुनी और बदसलूकी करने लगे।

Read More.. Bridge Collapses In Bihar : बिहार में फिर गिरा पुल ! अररिया के बाद अब सिवान में गंडक नदी पर बना पुल ढहा.

रजौली थाने से पहुंची पुलिस : –

सीबीआई ( Attack on CBI ) की टीम ने इसकी सूचना रजौली थाने की पुलिस को दी। रजौली थाने से पुलिस बल के पहुंचने के बाद स्थिति सामान्य हुई। इस हमले में सीबीआई टीम का चालक संजय सोनी घायल हो गया, जबकि एक अधिकारी की शर्ट फट गई। मुरहेना पंचायत के वार्ड नंबर 16 के वार्ड सदस्य मिथलेश प्रसाद द्वारा महिला कांस्टेबल के साथ दुर्व्यवहार किया गया। सीबीआई अधिकारियों के साथ भी बदसलूकी की गई।
सीबीआई की टीम
                                                                                        सीबीआई की टीम

क्यों पहुंची सीबीआई ( CBI ) टीम:

बताया जा रहा है कि यूजीसी नेट पेपर लीक मामले में गिरफ्तार एक युवक द्वारा दी गई सूचना पर कसियाडीह की एक लड़की की तलाश में सीबीआई ( Attack on CBI ) की टीम पहुंची थी। छापेमारी के दौरान सीबीआई की टीम ने कुछ बैंक पासबुक और यूजीसी नेट से संबंधित कुछ दस्तावेज के साथ दो मोबाइल फोन बरामद किया और उसे अपने साथ ले गई। हालांकि नवादा पुलिस ने बताया है कि सीबीआई की टीम दो मोबाइल फोन जब्त कर अपने साथ ले गई है।

Read More….  Motorola Moto S50 Neo : 25 जून को लॉन्च होगा दुनिया का पहला 4 साल की वारंटी वाला फोन, ये हैं फीचर्स और स्पेसिफिकेशन….

WhatsApp Follow

 

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है।

अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, ” प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।” पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि “मैं एक डिजिटल पत्रकार हूं।”

इंक़लाब इंडिया भारत का सर्वाधिक भरोसेमंद न्यूज पोर्टल में से एक है। यहां आपको हर छोटी -बड़ी खबरों से रूबरू होने को मिलेगा। देश के प्रमुख शहर के साथ बिहार झारखंड के प्रत्येक जिलों से हमारी रिपोर्टिंग कार्य प्रगति पर है, अगर हमारे पोर्टल के माध्यम से अपने व्यवसाय को बढ़ावा देना चाहते हो तो जल्द संपर्क करे आपकी सहायता करने में हमें गौरवान्वित महसूस करेंगे।

WhatsApp Follow

Leave a Comment